Best Ever Romantic Hindi Poetry On Love (2020)

In this blog, I will share your beautiful Hindi Poetry On Love. Are you know We are the best platform for Short English and Hindi stories, poetry, and quotes.

Related:- Top Love Hindi Poetry On Gulzar.

Hope you know Tellerify is the Best Website for readers, In our Blog, you will get a lot of Hindi and English stories with many more categories.

Ok without wasting your time see…

Best Romantic Hindi Poetry On Love

romantic-hindi-poetry-on-love
कहना तो चाहता हूं बहुत कुछ तुझसे 
मगर कह का पता हूं,
सच तो है जीना है तेरे बगैर
पर एक पल भी कहां रह पाता हूं।

कोशिश हर बार होती है तुझे भुलाने की
पर एक पल भी कहां भुला पाता हूं,
देखना चाहता हूं हर रात सपने
पर मैं खुदको सुला नहीं पाता हूं।

तू अगर देख पाती तो समझ जाती
की इस बेबसी को कहां छुपा पाता हूं,
छलक जाता है दर्द आंखों से कभी
पार में खामोश भी कहां रह पाता हूं।

लिए फिरता हूं एक समंदर इन आंखों में
मगर रो लूं जी भर के,
ऐसा भी कहां कर पाता हूं।

मुमकिन नहीं है जीना तेरे बगैर
तो सुन ले ए बेखबर,
तेरे बिना मुमकिन नहीं था जीना
मगर मजबूर हूं, मैं मर भी नहीं पाता हूं।

कितना कुछ कहना है तुझसे
पर कह नहीं पाता हूं,
जीना है तेरे बगैर, यह सच है
मगर एक पल भी कहां रह पाता हूं।

I ❤️ You
तुम्हें मैं देखना चाहूं एकदम करीब से
कसम से मिले हो तुम मुझे बड़े नसीब से।

मैं तुम्हें अपनी बाहों में भर लूं इस दुनिया से चुरा के,
आज कर लूं मैं खुद से करीब।
तुम्हें मैं तुम से चुरा के बसा लूं दिल में कहीं।

शायद इस दुनिया में है और ना होगा
मुझसे कोई खुशनसीब।
क्योंकि तुमने जो मुझे दिल दिया है
तो हूं ना में खुशनसीब!

तुम्हारे बिना ना जीना चाहूं मैं एक पल भी
तुम्हारे बीन बिताऊ, 
सांसे लूं तो तुम्हारी सांसो को खुद मैं लूं
अब तुम्हारे बिना ना जी सकूं ना रह सकूं।

मेरा एक प्यारा सा ख्वाब हो तुम
नींदों में आती प्यारी सी एहसास हो तुम।
तू मेरी दिल का सुकून,जिसके साथ में जिऊं।

तुम्हारी यादों को धागे में पीरों के मैं अपनी पास रखो
हर जगह आब बस तुम ही होती हो।
 सब सही हो जाता है जब तुम मेरे संग होती हो।

हर पल तुम्हारी यादें मेरे पास होती है
और उन लम्हों को याद कर मैं इतना मुस्कुराता हूं
कि आब तो आंखें भर आती है।

तो आ जाओ ना मेरे पास
मैं तुमको भर लूं अपनी बाहों में,
मुझे मिले हैं यह वक्त बड़े नसीब से।

तो यह वक्त को जी भर के जी लूं
तुमसे और भी करीब होके बाहों में भर लूं तुम्हें,
हमेशा तुम्हारे साथ रहूं,और तुम मेरे पास रहो,
और हर सुबह जब आंखें खुले,तो तुम मेरे बाहों में रहो।

I ❤️ You
तू ना कहती है, तो मुझे हां सुनाएं पढ़ती है
यह जो अपने बीच की केमिस्ट्री है ना,
मुझे इसमें मोहब्बत दिखाई पड़ती है।

बिल्कुल बच्चों जैसा करती है तू
लड़की है, झगड़ ती है
लेकिन इसी में तो अच्छी लगती है तू।
अरे ठहर जा, तुझे पता है
कभी-कभी गुस्से में गलियां भी बक्ती है तू।

मुझे मालूम है मेरे प्रपोजल से तेरा इनकार हो गया है
लेकिन इस दिल का क्या करूं?
सुनो, तुमसे प्यार हो गया है।

आप फ्रेंडशिप के चक्कर में
क्या कोई फिलिंग ही ना शेयर करो?
मुझे तो अच्छा लगता है
के मैं हर वक्त सिर्फ तेरी ही केयर करूं।

वह मेरी सोई किस्मत
जैसे ही करवट लेने को राजी हो गई,
जो सिर्फ एक तरफा होता है
मुझे फिर से ऐसे यार से आशिकी हो गई।

यह फ्लाइंग किस का चक्कर छोड़ो
और मेरी रातों से पूछो
के ख्वाब कितने सुनहरे होते हैं।

भूल जाओगी मुझे सताना,जब महसूस करोगी
के दूरियों के घाव, कितने गहरे होते हैं।

तेरा समझाना मेरे चेहरे की बिगड़ी हालात को लेकर
सच कहूं, आब रास नहीं आता,
कभी छू कर भी देखो मुझे
फिर कहती हो कि मैं पास नहीं आता।

जबरजस्ती नहीं करूंगा
मेरी हर शाम तेरी बालों में उंगलियां डालें,
तेरा चेहरा देखते रहने के लिए देखते रहने के लिए,
हां यकीनन ढूंढ कर लाता रहूंगा दिल
बार-बार तेरे फेंकते रहने के लिए।

I ❤️ You
तुझे किस तरह से बताएं हम
तुझे किस तरह से चाहे हम,
दूर रहके तेरे शहर से
तेरी जुल्फें कैसे सहलाए हम।

रात ढले तेरे करवादो में
तेरे ख्याल कैसे बनाएं हम,
तुझसे नज़दीकियां रख कर जाना
फिर दूरियां कैसे बढ़ाएं हम।

कोई फासला है तुझ में जो मजबूर हो रहा हो
धीरे धीरे मुझसे ही दूर हो रहा हो।

तेरे इश्क के लिए
जो फनाह है तेरी चाहतों में,
इस पागल दिल को कैसे समझाए हम
तुझे किस तरह से बताएं हम
तुझे किस तरह से चाहे हम।

मेरी हसरते बस इतनी है
कि तुझे मुकम्मल सब मिले,
हंसता मिलो मैं जब भी मिलो
मेरे अंदर ना कभी तू मिले।

हां बह जाते हैं कुछ बेबाक खयाल मेरे
आब तेरी मंजिलों से डर कर,
वहपास कैसे लौट जाए हम
तुझे किस तरह से बताएं हम,
तुझे किस तरह से चाहे हम।

I ❤️ You
तू हार मत मान
एक इंसान ही तो छूटा है,
क्या हुआ यार
एक सपना ही तो टूटा है।

हजारों सपने बाकी हे
जो वादे तूने कॉल किए थे, वह ऐसे आज भी है।
जो चला गया वह तो लौटेगा नहीं
यह तू भी जानता है।
और कहीं ना कहीं जो हुआ सही हुआ
यह तू भी मानता है।

जिंदगी इतनी बुरी भी नहीं है
हां माना अब यादें आएगी उसकी,
लेकिन उसके पास जाना तो भी सही नहीं है।

टाइम दे, चीजें अपने आप सुलझ जाएगी
अंधेरा है तो अभी रहने दे यार,
एक दिन सुबह भी हो जाएगी।

किसने कहा सारे रास्ते पूरे होते हैं
इश्क में कहां कोई मुकम्मल हुआ आज तक,
सब अधूरे होते हैं।

तू अकेला नहीं है यहां
इश्क ने सब को लूटा है,
यह जिंदगी का सफर है दोस्त
यहां कोई ना कोई जरूर छूटा है।

और याद करने से कहां कोई हकीकत हुआ आज तक
क्योंकि होना तो वही होता है ना जो होता है।

यह तेरे किताब का बस एक छोटा सा चैप्टर था
जो कहानी जहां तक थी, वह वहां तक साथ रही,
बाकी हुआ वही ना, जो होना था।

इस सफर में हमसफर तुझे और भी मिल जाएंगे
लेकिन यह सफर बस एक है,
तूने बहुत ख्याल कर लिया दूसरों का
और थोड़ा गौर कर,कौन असली है और कौन नकली है।

यह अकेलापन, यह खामोशी
उस शोर से तो लाख गुना बेहतर हैं।
जिस शोर में तुझे बस तेरी चीख सुनाई नहीं देती
तू हार मत मान यार, एक इंसान ही तो छूटा है।
क्या हुआ एक सपना ही तो छूटा है।

I ❤️ You
romantic-hindi-poetry-on-love
मेरे ख्वाब में तुम हकीकत से बिल्कुल पढ़े हो
काश ख्वाब अली तुमको मैं असलियत से जोड़ पाता।

उधर तुम्हें मैं भी उतना ही पसंद हूं जितनी तुम मुझे।
काश ऐसी कोई तरकीब होती,
कि तुम्हें मेरी सपनों की दुनिया से हकीकत में ले आता।

वहां अकेला मैं ही तुम्हारा परवाह नहीं करता,
तुम भी मुझे चाहती हो,
यहां जो, छोड़ो तुम नहीं समझोगे
कह के बात डाल देती हो।
वहां मुझे हर एक चीज बारीकी से बताती हो।

सिर्फ मैं ही मैसेज में ही करता हूं तुम्हें
तुम्हारे भी मैसेज आता है वहां,
मेरा होने ना होने से फर्क पड़ता है तुम्हें
शायद वहां पर एक तरफा नहीं है रिश्ता।

तुम समझती हो मुझे, मेरे हालात भी
मुझसे तुम्हें प्यार भी है, मुझ में पूरा विश्वास भी।

हम लड़ते हैं,
पर अपने रिश्ते को उस लड़ाई से ऊपर रखते हैं।
ईगो को खुद पर हावी नहीं होने देते।
मैं देखता हूं हमें तो एकदम बिल्कुल परफेक्ट कपल लगते हैं।

तुम जो वादे करती हो उसे निभाती भी हो,
मेरे बारे में सबको बताती हो,दुनिया से शर्माती नहीं हो,
अपने रिश्तो को छुपाने की हमें यहां जरूरत नहीं है।
क्योंकि यहां के लोगों के दिल में उतनी कड़वाहट नहीं है

मैं कहता हूं अगर की परेशान हूं थोड़ा
तो तुम 'सब ठीक हो जाएगा' कह के चली नहीं जाती।
मेरे साथ रहती हो, मेरे हाथ पकड़ के
फिर मेरी तकलीफ सिर्फ मेरी नहीं रह जाती।

हम खुश रहते हैं एक साथ
एक दूसरे की कारण कभी रोते नहीं है।
गलती किसी एक की भी हो, तो दोनों सुलझाते है।
ऐसे ही किसी को अकेला छोड़ते नहीं है।

तुम मुझे अपने दोस्तों से भी मिलाती हो,
मेरे बारे में घर पर भी बताती हो,
प्यार का मतलब सुकून है, तो सुकून मिलता है यहां
जैसे मैं मांगता हूं तुम्हें
तुम भी मुझे अपना, वैसे ही मानती हो।

तुम अपना हाल सुना कर, फिर मेरा हाल भी पूछती हो
अपने आप से पहले, तुम मेरा आराम ढूंढती हो।

तुम्हें मेरी फ़िक्र भी है यहां
वह दिखता है तुम्हारी आंखों में,
और ऐसी दुनिया की जो मुझे ख्वाहिश है
और सिर्फ बन सकता है ख्वाबों में।

जहां तुम भी मुझसे उतना ही प्यार करो
जितना मैं तुमसे करता हूं।
जहां कुछ भी कहने से मैं ना डरु
जैसे अभी कहने से डरता हूं।

यह हकीकत बिल्कुल हकीकत जैसे ही है
तुम नहीं हो यहां,
ख्वाबों में ही कुछ अच्छे पल हैं
जो तुमसे मुलाकात हो जाती है।

इस दुनिया से विपरीत बिल्कुल अलग दुनिया है वहां
हम साथ में जीना शुरू ही करते हैं,
कमबख्त तभी आंख खुल जाती है।

I ❤️ You
romantic-hindi-poetry-on-love
तुम चाहत हो मेरी, हर चाहत से बढ़कर
तुम इबादत हो मेरी, हर दुआओं से बढ़कर।

यह महेश बातें नहीं, मेरे दिल की आवाज है
तुम चैन हो मेरा, हर राहत से बढ़कर।
तुम चाहत हो मेरी, हर चाहत से बढ़कर।

मांगता हूं तुम्हें हर बार मेरी ख्वाहिश तो सिर्फ तुम हो
भक्ता हूं तो बस तेरी ही और,
फरमाइश इस दिल की बस तुम्हें हो।

छुपा लूं तुम्हें इस दिल में कहीं
और रख लो अपनी आंखों में भर कर,
तुम चाहत हो मेरी, हर चाहत से बढ़कर।

आब जो पकड़ा है यह हाथ तो कभी ना छूटेगा
मोहब्बत का कोई भी पल कभी ना रूठेगा ।

होगी सुबह तो तेरी साथ होगी
हर शाम भी तुम बस मेरे पास होगी।

मेरे दिल के पन्नों को यूं ही तुम्हें सुना दूंगा पढ़कर
तुम चाहत हो मेरी, हर चाहत से बढ़कर।

I ❤️ You
जो हुआ हो बया, पर मुमकिन नहीं
जो था सिर्फ मुझ में, तुझ में नहीं।
भाई तेरी हर जख्म मैंने
और मेरे उनका अष्की की अब कोई दवा नहीं।

तुझसे प्यार किया था, फिर बता मुझे याद क्यों ना करूं
तेरी हर बात पे बाता मैं सवाल क्यों ना करूं।

क्या मेरी आंखों में आंसू किसके लिए बहाए थे
फिर बता अपनी रोती आंखों से मैं तुझे बयां क्यों ना करूं।

मैं तो बेहया होके अपने वक्त से लड़ गए,
और तेरे लिए, तेरे उसी वक्त में। तेहर गया,
चाल माना कि कुछ अलग ख्वाब थी तेर
पर मैं तो केद होके तुझ में ही मर गया।

एक तरफा प्यार, जो सिर्फ मुझ में था
तुझ में नहीं।

I ❤️ You
romantic-hindi-poetry-on-love
रिश्ते कभी अपने आप नहीं मरते
उनको हमेशा इंसान ही मरता है।
कभी नफरत से, कभी गलत फेमी से
तो कभी नजरअंदाज से।

जिंदगी में अफसोस करना छोड़ दो
और कुछ ऐसा करो,
जिससे आपको छोड़ने वाला अफसोस करें।

जिसे मोहब्बत की जाए उसके बारे में ज्यादा
सोचना नहीं चाहिए,
क्योंकि सोच सक को जन्म देती है।
और सक मोहब्बत को खतम कर देती है।

लोक तब आपको नहीं मिलेंगे जब आप अकेले होंगे
प्रताप मिलेंगे जब वह खुद अकेले होंगे।

जब तुम्हें खुशियां मिलने लगे
तब उस इंसान को कभी मत भूलना,
जिसने तुम्हें यह खुशियां दी है।

लोगों को इस बात से फर्क नहीं पड़ता
कि आप खुश हो या नहीं,
फर्क इस बात से पड़ता है
कि आप उन्हें खुश रखते हो या नहीं।

जरूरी नहीं कि सब रिश्ते लड़ाई पर ही खत्म हो
कुछ रिश्तो को किसी की खुशी के लिए भी,
छोड़ देना पड़ता है।

I ❤️ You
ना जाने यह कैसी मोहब्बत है तुझसे
बात नहीं होती, फिर भी दिल को फिकर बस तेरी ही है।

कितनी अजीब है यह मोहब्बत भी
जो दर्द देता है, सुकून भी बस उसी के पास मिलता है।

सच्ची मोहब्बत तो वही है
जिसमें पाने के कोई उम्मीद ना हो,
फिर भी बेइंतेहा प्यार हो।

I ❤️ You
तुमसे प्यार करना तो आसान था
पर अब तुम्हारे यादों को भुला ना बहुत मुश्किल है।
जब भी कभी अकेले बेठता हूं
तो तुम भी चली आती हो।
आंसू बनकर मेरे आंखों से बह जाते हो।

तुम्हारे साथ हंसना तो आसान था
पर तुम्हारे बिना हंसना बहुत मुश्किल है।

तुम्हारे आने के उम्मीद भी नहीं है 
अरे फिर भी इस दिल को तुम्हारा ही इंतजार है।

किसी के लिए सपने सजाना तो आसान है
पर जिंदगी भर किसी के इंतजार करना,
बहुत मुश्किल है।

किसी से वादे करना तो आसान है
पर किसी के झूठे वादों के सहारे जीना,
बहुत मुश्किल है।

तुमसे प्यार करना तो आसान था
पर अब तुम्हारे यादों को भुलाना
बहुत मुश्किल है।
आजकल थोड़ा खोया खोया सा रहने लगा हूं
अब धीरे-धीरे मैं तुम्हारा बस तुम्हारा ही होने लगा हूं।

आजकल आंखें बंद करता हूं तो तुम ही नजर आती हो
नींदों में अक्सर तुम ख्वाब बनके चले आते हो।

अब तो बस तुम्हारा ही रंग में रंगने लगा हूं
मैं तुम्हारा बस तुम्हारा ही होने लगा हूं।

मेरी आंखें तुम्हें ढूंढती है हर जगह
मैं तुम्हें हकीकत में देखना चाहता हूं।

हां आजकल तुम्हारे प्यार में
थोड़ा पागल सा होने लगा हूं।
मैं तुम्हारा बस तुम्हारा ही होने लगा हूं।

तुम मेरी आदत बनने लगे हो
और मैं इस आदत को बदलना भी नहीं चाहता हूं।

हां यह सच है कि मैं तुम्हें प्यार करने लगा हूं
मैं तुम्हारा बस तुम्हारा होने लगा हूं।

I ❤️ You
romantic-hindi-poetry-on-love
जब से प्यार हुआ है तुमसे
बस तुम्हारा ही होने लगा हूं मैं,
इस दिल को हर वक्त
बस इंतजार तुम्हारा ही रहता है।

यह दिल तो बस तुमसे मिलने की ज़िद करते रहता हैं।
ऐसा नहीं कि मुझे कोई मिला नहीं,
पर सच कहूं, तो तुम्हारे जैसा कोई मिला नहीं।

तुमसे मिलने पर इस चेहरे पर जो हंसी आती हैं,
इस दिल को जो सुकून सा मिलता है,
यह किसी और के साथ मुझे मिला नहीं।

अच्छा लगता है तुमसे बातें करते रहना,
बस तुम्हें याद करके, मुस्कुराते रहना।

अब तुम मेरे साथ रहो या ना रहो कोई बात नहीं
पर अच्छा लगता है मुझे, तुमसे प्यार करते रहना।
एक सफर उसके साथ बहुत छोटा था
मगर यादगार हो गया, वह भी जिंदगी भर के लिए।

ना मंजिल की फिकर थी, ना ही किसी चीज का डर था
तू जो साथ थी, तो सब कुछ तो मेरे पास था।

तेरे साथ एक सफर की शुरुआत हुई थी
सफर की शुरुआत तो बहुत अच्छी थी।

ना जाने दोनों साथ में कितने सपने सजने लगे थे
हम दोनों एक दूसरे को एक नए नाम से बुलाने लगे थे।

मेरे हर दिन की शुरुआत तुम्हारे कॉल से ही तो होते थे,
याद है उन दिनों तुम मुझे बहुत मिस भी किया करते थे।

फिर कुछ ऐसा हुआ बीच सफर में ही
तुमने मेरा हाथ छोड़ दिया,कुछ सपने तुमने तोड़ दिए
और बाकी हमने देखना ही छोड़ दिया।

I ❤️ You
चल पड़े थे दोनों इश्क के सफर पे
मैं पीछे लौटने का रास्ता ही भूल चुका था।

खो गया था मैं बीच सफर में ही
तुमने मुझे छोड़ के रास्ता जो ही बदल लिया था।

ना मंजिल का पता था, ना ही तुम्हारा साथ था
मैं तो चल दिया था साथ तुम्हारे,
और चलता रहा उस वक्त भी,
जिस वक्त में मुझे रुकना था।

तुम साथ थे थोड़ा ही सही पर मुस्कुरा लेता था
मैं तो बस तुम्हारे प्यार में ही खोया रहा,
और तुम बदलते चले गए,
मुझे पता ही नहीं था की इश्क का सफर
अकेले चलना इतना मुश्किल था।

सफर की शुरुआत तो बहुत अच्छी थी
पर आखिर में सिर्फ रोना था।

I ❤️ You

I hope you enjoy our article about Hindi Poetry On Love. you may like to visit Best Hindi poetry on Maa.

Please tell which Poetry you like most and what is good about those poetries. Comment below and share it with your friends with our great collection.

For daily updates you can join our Facebook page.

Thank You!

Comments are closed.